Popular Posts

US Box Office Collection: 'Kick 2', 'Srimanthudu' Perform Better than Bollywood Biggies 'Bajrangi Bhaijaan', 'Brothers', 'Drishyam'

A collage of 'Kick 2' and 'Srimanthudu'.IB Times India

Telugu movies "Kick 2" and "Srimanthudu" dominated the US box office among the Indian movies last weekend. The two Tollywood films performed better than Bollywood's big films like "Bajrangi Bhaijaan", "Brothers" and "Drishyam".

At the US box office, "Kick 2" topped the list among the Indian films by ranking at the 28th position. It had 99 screens, from which it collected $307,195 (Rs 2.04 crore) in its first weekend. The turnout was pretty good for this Ravi Teja starrer as there was a good hype around the flick. 

Mahesh Babu's "Srimanthudu" came second among the Indian films at the US box office. Ranked at 38, the Telugu movie did a business of $94,498 (Rs 62.57 lakh) from 46 screens. The total collection by the movie stands at $2,820,214 (Rs 18.80 crore), which is quite a remarkable achievement for a South Indian film.

Akshay Kumar and Sidharth Malhotra starrer "Brothers", ranked at 42nd position, earned only $60,694 (Rs 40.19 lakh) from 112 screens. The signs of the movie slowing down at collection centres are visible and it appears like the film is unlikely to have a long run in the US. The total business by the Hindi movie by the end of its second weekend stands at $433,191 (Rs 2.88 crore).

The latest Hindi release "All is Well", ranked at 44th position, in its opening weekend earned $59,625 (Rs 39.76 lakh) from 46 screens. It is followed by "Bajrangi Bhaijaan" (47th position), which raked in $46,478 (Rs 30.77 lakh). The Salman Khan starrer has collected $6,209,505 (Rs 41.41 crore) by the end of its sixth weekend.

Ajay Devgn's "Drishyam" has collected $525,948 ( Rs 3.50 crore) so far, "Baahubali" (Hindi version) has raked in $466,176 (Rs 3.10 crore), and Tamil movie "Vaalu" has collected $33,203 (Rs 22.14 lakh). 

Source - Ib times

6 underrated Bollywood movies you can't afford to miss

Some movies might not be able to garner the limelight of cinema but still manage to carve a niche. Unconventional themes may bring about a difference in the popularity with respect to mainstream movies but these 6 under-rated movies are worth watching.

Sikandar:

'Sikandar' is a beautiful movie about a 14-year old boy Sikandar Raza (played by Parzan Dastur) who lives in Kashmir. The movie is an insight into how a child’s psychology is molded, how terrorists are made and how an innocent fights terrorism.

Ramji Londonwale:This movie is a story of an excellent cook Ramji (played by Madhavan), whose dream is to get his sister settled. After getting her sister married, the groom’s family who had demands for dowry asks Ramji to go to London, as a cook and work for a multi millionaire London based Indian family, to earn and give a part of his income as compensation for the dowry he owes. He wins the hearts of everybody in London and after a series of interesting struggles he manages to win a cooking competition and subsequently gets his passport, visa and work permit. As he takes it as his responsibility to return to his village and help in the upliftment of his community-mates, he returns back to India with his love interest Samira (played by Samita Bangargi) and opens his own restaurant.

Aamir:

Who says a man writes his own destiny? That’s the question the movie will leave you with. It revolves around a young Muslim man, Dr. Aamir Ali (Rajeev Khandelwal), who finds himself at the mercy of Islamic extremists who are planning on a blast in the city of Mumbai. The movie reflects how responsibility taken by one person can save the lives of many and what that courageous man who takes a step forward to do the right/best possible might have to put at stake/sacrifice.

Main Meri Patni Aur Woh:

The movie revolves around a married couple Mithilesh (played by Rajpal Yadav) and Veena (played by Rituparna Sengupta) and is about the insecurities and feelings of jealousy that Mithilesh goes through because of an unconventional reason of him being shorter than his wife. However, it’s their confessions that bring them closer as a couple.

Mera Pehle Pehla Pyar:

It’s a rom-com based on a high school boy, Rohan (played by Ruslaan Mumtaz) who falls in love with a beautiful new student, Ayesha Mehra (played by Hazel Crowney) and Rohan’s friendship with his classmates Vasu, Sudhir and Javed all from St. Lawrence High School. It’s a movie that revolves around teenage friendships and love. Though a clichéd topic as it may seem, it has a fresh breath of cinematography and crazy relatable humor.

Socha Na Tha:

'Socha Na Tha' is a movie which portrays how things that are never even thought of happen. It's the story of Viren (played by Abhay Deol) and Aditi (played by Ayesha Takia) who lie in their marriageable age group. Their parents fix a meeting for them to know each other but both have their own reasons for disagreeing on getting married. However, they do fall in love later.

Source - Ibn live

अमिताभ बच्चन की दीवानगी ऐसी कि पेंसिल-चॉक पर दिखा दी उनकी झलक


एंटरटेनमेंट डेस्क. वैसे तो दुनियाभर में अमिताभ बच्चन के करोड़ों फैन्स हैं, लेकिन एक प्रशंसक ने हाल ही में कुछ ऐसा किया, जिसे देखकर बिग बी भी हैरान रह गए। सचिन सांघे नाम के इस फैन ने पेंसिल की नोक पर बिग बी का चेहरा उकेरकर उन्हें सरप्राइज किया।

अपनी इस कलाकारी को सचिन ने अमिताभ के ट्विटर अकाउंट पर शेयर किया। इसके साथ उन्होंने लिखा है, "Dear Sir, A PORTRAIT SCULPTURE ON PENCIL LEAD FOR U! 8hrs of effort!! Hope you like it!". इसे देखने के बाद बिग बी ने हैरत जताते हुए रिप्लाई दिया, "are baap re ... this is amazing !! thank you so much !!".

सचिन ने एक नहीं, बल्कि बिग बी के तीन अलग-अलग रूप पेंसिल्स और चॉक पर उकेरे और ट्विटर पर शेयर किए। इनमें से एक उनकी पिछली फिल्म 'पीकू' का लुक भी है। बिग बी के अलावा सचिन वर्ल्डकप, सूर्य नमस्कार, फ्रेंडशिप डे, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, स्वामी विवेकाकंद आदि को लेकर भी पेंसिल्स और चॉक पर कलाकारी कर चुके हैं। अपने इस हुनर को उन्होंने सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर भी शेयर किया है।

Source - bhasker

ऋतिक का रिश्ता सुजैन से टूटा है, हमसे ज़िंदगीभर का नाता है'

'ऋतिक का रिश्ता सुजैन से टूटा है, हमसे ज़िंदगीभर का नाता है'
अभिनेता ऋतिक रोशन तलाक के बाद भी अपनी पूर्व पत्नी सुजैन खान के परिवारजनों से पहले जैसा रिश्ता रखते हैं। वे अपनी सास को आज भी 'मॉम' कहकर बुलाते हैं। ठीक वैसे ही सुजैन की मां ज़रीन खान ऋतिक को बेटा कहती हैं।
उन्होंने एक इंटरव्यू में कहा, 'ऋतिक काे मैं सालों से जानती हूं। उसके साथ हमारा रिश्ता ज़िंदगीभर का है। वह मेरे नवासों का पिता है और मेरे लिए बेटे जैसा ही है।' ऋतिक-सुजैन के अलगाव के बाद रिश्ते नहीं बदले?

इस पर वे कहती हैं, 'नहीं और इसका क्रेिडट मैं अपनी बेटी को भी दूंगी। जब उनका रिश्ता टूटा तो वह रोई नहीं, न ही यह कहा कि हम ऋतिक से कोई नाता न रखें। हम और ऋतिक की फैमिली, एक परिवार हैं और हमेशा वैसे ही रहेंगे।'
SOURCE - BHASKER

अच्छी सूरत वाले लड़के से ही शादी करेंगी आलिया भट्ट

अच्छी सूरत वाले लड़के से ही शादी करेंगी आलिया भट्ट
बबली गर्ल आलिया भट्ट ने शादी और लाइफपार्टनर के बारे में खुलकर बात की है। एक मौकेपर उन्होंने बताया, "अभी मेरी उम्र 22 साल है और मेरे हिसाब से शादी केलिए सही उम्र है 32 साल। मैंने अभी तक शादी का लड्डू नहीं खाया है, लेकिन उम्मीद करती हूं कि वह मेरे लिए अच्छा ही होगा।'

जब उनसे उनके भावी जीवनसाथी की क्वालिटीज़ के बारे में पूछा गया तो आलिया ने बताया, "उसका सेंस ऑफ ह्यूमर कमाल होना चाहिए। ऐसा इंसान जो मुझे हंसा सके। और सबसे ज़रूरी गुड लुक्स। मेरा पार्टनर दिखने में बहुत अच्छा होना चाहिए। मैं नहीं बताऊंगी कि मुझे कैसे इम्प्रेस करना है। उसे मुझसे प्यार होगा तो वह खुद जान जाएगा।'
SOURCE - BHASKER

अर्जुन से शादी करने के लिए कुंडली के साथ पहुंची फैन

अर्जुन से शादी करने के लिए कुंडली के साथ पहुंची फैन
अपने चहेते सितारे केलिए खास तोहफे लेकर फैंस उनसे मिलने जाते हैं। बीते दिन अर्जुन कपूर की एक फैन भी उनसे मिलने मेहबूब स्टूडियो पहुंची। इस फैन का नाम है रेहा शर्मा और वह इंदौर की रहने वाली है। रेहा हाथ में बायोडाटा और अपनी कुंडली भी लाई थीं।
कड़ी सुरक्षा के चलते उन्हें सेट पर जाने की अनुमति नहीं मिली। उसने अपनी कुंडली और बायोडाटा उनको पकड़ा दिया। जब अर्जुन के हाथ में यह आया तो वे आश्चर्य में पड़ गए।

उन्हाेंने बताया, "फैंस मुझसे मिलने आते हैं, लेकिन पहली बार ऐसा हुआ है किसी फीमेल फैन मुझे अपनी कुंडली दी है। अकसर लड़कियां मुझे देखकर चिल्लाती हैं, बहुत प्यार जताती हैं। अब ये खुशी की बात है कि वे मुझे हसबैंड मटेरियल की तरह भी देख रही हैं।'

SOURCE - BHASKER

Eva Amurri Martino reveals she suffered a miscarriage

Actress Eva Amurri and husband Kyle Martino arrive as guests at the 19th Annual ELLE Women in Hollywood dinner in Beverly Hills, Callifornia October 15, 2012. (Reuters)
Eva Amurri Martino has opened up about a heartbreaking loss in her life.
The 30-year-old suffered a miscarriage in recent weeks, and blogged about her family’s pain in a weekend post sadly titled “Little Angel.”
“It’s with a lot of heartache that I tell you Kyle, Marlowe, and I have some sad family news to share … A couple of days ago, the baby I was carrying passed away.  I was nine weeks pregnant,” she wrote on her blog, Happily Eva After, on Saturday.
The actress, who is the daughter of Susan Sarandon, says she was “feeling great, with only minimal nausea and as much fatigue is to be expected with a toddler and the first trimester of pregnancy.” She, husband Kyle Martino and young daughter Marlowe were vacationing in Hawaii when she began to experience some unusual spotting.
“But once I returned to Los Angeles, I got the all-clear from my doctor. We heard the heartbeat on multiple occasions, and watched our baby growing at a normal rate,” she wrote.
The couple then shared their news with family and close friends while celebrating Marlowe’s first birthday, which was Aug. 9.
‘At my next visit for a routine ultrasound, however, the baby’s heart was no longer beating. Just like that, it was all over. I remained in the office and went through the procedure to remove the baby from my uterus … My doctor told me that this was most likely a case of there being an underlying major developmental problem with the fetus, and that it had simply stopped growing.  That nature had taken its course in the most brutally honest and simple way that nature sometimes works.’

Amurri Martino says she was shocked to find out that miscarriages are “heartbreakingly common,” and she decided to share her personal story “in the hopes that we can be a light for people going through similar circumstances, and to remind myself and others that there is no shame in voicing our heartbreaks and allowing others to comfort us.”
Source - Fox news

Karan Johar to grill Twinkle Khanna and Aamir Khan at Twinkle's book launch


Akshay Khanna’s wife Twinkle has recently emerged as a quirky and incisive columnist with her own take on current events. She is even ready to publish her first book titled Mrs. Funnybones and the launch event will be a star studded affair. Besides hubby Akshay Kumar, Aamir Khan and Karan Johar will also be attending the event. What’s more, we hear that Karan who has always wanted to grill Twinkle Khanna on his show will do so at the book launch event. Accompanying Twinkle will be her Mela co-star Aamir Khan!


Twinkle Khanna is one of the few actresses who has yet to grace Karan’s show Koffee With Karan. Speaking about it Karan said, “She has never been on my show. She always declined, saying that if she came, she would talk rubbish and get into trouble. But she has done exactly that in her columns and succeeded. I have always known this aspect of her that people have discovered now. Tina has a mad side to her personality and she is hysterical. She also has a great take on slice-of- life. No wonder her columns are loved and adored. So when I heard that she was launching her book, I said, ‘Listen I have to do this. It is a grand coup. She agreed and I am looking forward to my rapid-fire round with her. No, I have not shown her the questions. She told me: ask me anything. And now I am worried about what she will say because she is totally uncensored when it comes to speaking her mind. I also have other tricks and surprises up my sleeve. I am really looking forward to this because we have a great chemistry as friends.”

It will be rather interesting to see what kind of questions KJo throws her way. And now that we have met the quirkier side of Twinkle through her column we feel she will prove to be a worthy opponent for our wily host.
Source - films of india

Gulzar: Man who never set boundaries for himself

Rohit Vats, Hindustan Times, New Delhi| 
Updated: Aug 18, 2015 11:29 IST
Sampooran Singh Kalra, known popularly by his pen name Gulzar, is an Indian poet, lyricist and film director. (HT Photo)

Mod pe dekha hai wo boodha sa ek ped kabhi?
Mera waaqif hai bahut saalon se main use jaanta hoon.
- Gulzar

He is still the most relevant poet in the Hindi film industry, to say the least. Sampooran Singh Kalra’s Midas touch can make any song rise above the ordinary. His latest Dum ghut-ta hai in Drishyam creates a mood that grips you. Sometimes, it’s hard to believe the same person has written Main aa riya hoon ki jaa riya hoon in Dedh Ishqiya, but then that’s Gulzar for you. Finding the extent of his range is like trying to catch a squirrel with a ring rope.

It's Bajirao Mastani vs Dilwale this Christmas

Though it is still a few months away, the big Christmas clash — between Sanjay Leela Bhansali’s Bajirao Mastani (BM) and Rohit Shetty’s Shah Rukh Khan- and Kajol-starrer Dilwale— is already a hot topic of discussion in film trade circles. Interestingly, Rohit says that he loved BM’s teaser trailer, and that he is confident that the film will work.

“I saw it (the teaser) in Bulgaria (where he was filming his next last month) when it came out online. My assistant director showed it to me, and I loved it. It’s looking great, and it’s grand. It’s looking like a Sanjay Leela Bhansali film. He is a great director, and he has always made movies that boast of a great canvas. So, instead of saying, ‘Kya hai? Kuch bhi nahi hai (what is this? It is nothing)’, I will honestly say that it’s a great promo, and that the film will work,” says Rohit.

But won’t the clash with BM affect his film’s business? “Yes, but everyone comes with their own destiny. Ideally, it (the clash) shouldn’t have happened, but now that it is happening, all we can do is be positive. A lot of circus will happen (laughs). And that circus won’t be from either of the films’ offices, but in the industry and the media, (sic)” says the director.
Source - hindustan times

Nawazuddin Siddiqui: Youth should know Manjhi's inspiring story

Actor Nawazuddin Siddiqui says they want to take the inspiring story of Dashrath Manjhi to everyone through their film Manjhi-The Mountain Man.

Nawaz plays the titular role in the Ketan Mehta-directed biopic. He, Radhika Apte and Mehta were in Gehlaur, Manjhi's native village, today to pay their tribute to the 'Mountain Man' on his death anniversary. Manjhi broke down an entire mountain to create a path after his wife died due to unavailability of medical help. He died on August 17, 2007.

मिलिए ऐसे अभिनेता से, जो जंग-ए-आजादी का भी रहा था नायक


नई दिल्ली [प्रतिभा गुप्ता] । आज पूरा देश मिलकर आजादी का जश्न मना रहा है। इसके साथ ही फिल्मी पर्दे पर आजादी के नायकों का किरदार जीवंत करने वाले अभिनेताओं को भी याद किया जा रहा है। अभिनेता मनोज कुमार, परेश रावल से लेकर अजय देवगन, आमिर खान जैसे अभिनेताओं ने भगत सिंह, सुभाषचंद्र बोस, मंगल पांडे जैसे आजादी के नायकों की संघर्षपूर्ण जिंदगी, देश के प्रति उनकी कुर्बानियों को बखूबी बयां किया है। मगर ये तो सिर्फ 'फिल्मों के फ्रीडम फाइटर्स' हैं, एक ऐसा भी अभिनेता था, जो अपनी असल जिदंगी में भी जंग-ए-आजादी का नायक रहा था। जिसने देश की आजादी में अहम भूमिका निभाई और इसके लिए जेल की सलाखों के पीछे भी जिंदगी बिताई।

चलिए, इस महान शख्सियत के बारे में आपको कुछ क्लू देते हैं। उनका एक डायलॉग बहुत ही चर्चित हुआ था, 'इतना सन्नाटा क्यों है भाई'। जी हां, अब तो आप समझ ही गए होंगे कि यहां जिस महान शख्सियत का जिक्र कर रहे हैं, वो कोई और नहीं, बल्कि अपने अभिनय से हमारे दिल में अपनी अमिट छाप छोड़ने वाले एके हंगल साहब हैं, जो एक अभिनेता होने के साथ ही स्वतंत्रता सेनानी भी थे। 1970 के दशक में सुपरहिट फिल्म 'शोले' में उनका यह डायलॉग खूब चर्चित हुआ था, यह भी आपको बताते चलें कि इस यादगार फिल्म की रिलीज को भी 40 साल पूरे हो गए हैं। 15 अगस्त, 1975 को यह फिल्म रिलीज हुई थी, जो हमेशा के लिए यादगार बन गई।


खैर, आज आजादी का दिन है तो बतौर अभिनेता नहीं, बल्कि स्वतंत्रता सेनानी के तौर पर एके हंगल की शख्सियत से रूबरू कराते हैं, जिनके बारे में बहुत ही कम लोगों को पता होगा। एके हंगल का पूरा नाम अवतार किशन हंगल था। उनका जन्म एक फरवरी, 1914 को सियालकोट, पंजाब में हुआ था, जो अब पाकिस्तान का हिस्सा है। हालांकि, उन्होंने अपने बचपन और जवानी के दिन पेशावर में बिताए। फिर उनके पिता पंडित हरि किशन हंगल के रिटायरमेंट के बाद सभी पेशावर छोड़ कराची चले आए। इस तरह एके हंगल का पाकिस्तान के इन तीनों शहर से काफी करीबी रिश्ता रहा था।

वैसे तो एके हंगल साहब को शुरुआती दिनों में जीवनयापन के लिए एक दर्जी के तौर पर काम करना पड़ा था, मगर उन्होंने 1929 से 1945 के बीच भारतीय स्वतंत्रता संग्राम में एक सक्रिय भागीदारी निभाई। इस बीच पाकिस्तान में एक थियेटर ग्रुप के साथ काम करते हुए रंगममंच की दुनिया से भी जुड़े रहे। हालांकि कम्यूनिस्ट होने और ब्रिटिश हुकूमत की खिलाफत करने के कारण उन्हें तीन सालों तक पाकिस्तान की जेल में सलाखों के पीछे भी रहना पड़ा। कहा जाता है कि महज पांच साल की उम्र में उन्होंने 1919 में जलियावाला बाग दंगे के खिलाफ विरोध-प्रदर्शनों में भी हिस्सा लिया था।

खैर, तीन साल की जेल की सजा काटने के बाद वो 1949 में बॉम्बे (जो अब मुंबई है) आए और यही बस गए। तब तक देश के दो टुकड़े हो गए थे, एक हिंदुस्तान और दूसरा पाकिस्तान। एक साक्षात्कार में उन्होंने बताया था कि उस वक्त उनकी जेब में मात्र 30 रुपये थे और उन्हें पाकिस्तान से जाने को कह दिया गया था, क्योंकि वो अपने वैचारिक सिद्धांत के खिलाफ झुकने को तैयार नहीं थे। मुंबई आने के बाद भी वो 1965 तक रंगमंच की दुनिया से जुड़े रहे और फिर फिल्मों की ओर रुख किया। इस तरह उनकी जिंदगी चलती रही अौर फिर 26 अगस्त, 2012 को वो हमेशा के लिए इस दुनिया को अलविदा और हमारे दिल में अपनी यादें छोड़ चले गए।


एक साक्षात्कार के दौरान एके हंगल साहब ने कहा था कि वो अंग्रेजी हुकूमत के सामने कभी नहीं झुके। उनके मुताबिक, 'वो अंग्रेजों के सामने भी सिर ऊंचा रखते थे।' एक बार उन पर शिवशेना ने पाकिस्तानी होने का आरोप भी लगाया था। उन्होंने पाकिस्तान की आजादी का जश्न मनाने के लिए वीजा आवेदन के लिए अप्लाई किया था। तब उन्होंने कहा था कि वो किसी से नहीं डरते हैं। वो अंग्रेजों से भी नहीं डरते थे। तो आजादी के 69वें साल के मौके पर उनके इस जज्बे को सलाम करना तो बनता है। एके हंगल साहब आप एक स्वतंत्रता सेनानी और एक अभिनेता के तौर पर हमेशा हमारे दिलों में जिंदा रहेंगे।

SOURCE - .jagran.

शोले' के 40 साल पूरे, स्‍वतंत्रता दिवस पर हुई थी रिलीज

'शोले' के 40 साल पूरे, स्‍वतंत्रता दिवस पर हुई थी रिलीज
नई दिल्ली। फिल्म 'शोले' का नाम जुबां पर आते ही जय-वीरू, बसंती से लेकर ठाकुर, गब्बर, कालिया तक सभी किरदार आपके जेहन में जीवंत हो जाते हैं। आज जहां देश की आजादी के 69 साल पूरे हो गए, वहीं इस ऑल टाइम ब्लॉकबस्टर फिल्म की रिलीज को भी 40 साल पूरे हो गए।

जी हां, 1975 में 15 अगस्त को ही रमेश सिप्पी निर्देशित यह यादगार फिल्म रिलीज हुई थी। इस फिल्म में अमिताभ बच्चन, धर्मेंद्र, हेमा मालिनी, संजीव कुमार अमजद खान, जया बच्चन जैसे कलाकारों ने अहम भूमिका निभाई थी और अपने दमदार अभिनय से अपने-अपने किरदारों को जीवंत बना दिया।
इस फिल्म के किरदार, गीत, नृत्य, संवाद, सीन सभी दर्शकों के दिलो-दिमाग पर अपनी अमिट छाप छोड़ने में कामयाब रहे थे। आम लोगों के भी इस फिल्म से जुड़े कई दिलचस्प किस्से जरूर होंगे। यह उस दौर में रिलीज हुई थी, जब ज्यादातर लोगों के पास टीवी नहीं थी।
इस फिल्म में जय-वीरू की दोस्ती भी काफी मशहूर हुई थी। फिल्म 'शोले' के 40 साल पूरे होने के मौके पर जय का किरदार निभाने वाले अमिताभ बच्चन ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बहुत सी दिलचस्प बातें शेयर की। इस दौरान फिल्म 'शोले' में जय-वीरू की दोस्ती पर उन्होंने कहा कि असल जिंदगी में भी वो और धर्मेंद्र ऐसे ही दोस्त हैं।
उन्होंने कहा कि वो और धरम जी आज भी जय-वीरू स्टाइल में ही एक दूसरे से मिलते हैं। कुल मिलाकर दोनों की ऑन स्क्रीन जोड़ी ऑफ स्क्रीन भी बरकरार है। दोनों पर फिल्माया गया गाना 'ये दोस्ती हम नहीं तोड़ेंगे' आज भी दोस्तों के बीच खूब मशहूर है और हमेशा रहेगा।
SOURCE - jagran

आज भी दिलों में देशभक्ति का जज्बा जगाते हैं ये 15 गीत



भारतीय सिनेमा जगत में देश भक्ति से परिपूर्ण फिल्मों और गीतों की एक अहम भूमिका रही है और इसके माध्यम से फिल्मकार लोगों में देशभक्ति के जज्बे को आज भी बुलंद करते हैं।

हिन्दी फिल्मों में देशभक्ति फिल्म के निर्माण और उनसे जुड़े गीतों की शुरुआत 1940 के दशक से मानी जाती है। निर्देशक ज्ञान मुखर्जी की 1940 में प्रदर्शित फिल्म 'बंधन' संभवत: पहली फिल्म थी। जिसमें देश प्रेम की 

भावना को रूपहले परदे पर दिखाया गया था। यूं तो फिल्म बंधन मे कवि प्रदीप के लिखे सभी गीत लोकप्रिय हुए लेकिन 'चल चल रे नौजवान' के बोल वाले गीत ने आजादी के दीवानों में एक नया जोश भरने का काम किया।

वर्ष 1943 में देश प्रेम की भावना से ओत प्रोत फिल्म 'किस्मत' प्रदर्शित हुई। फिल्म 'किस्मत' में प्रदीप के लिखे गीत 'आज हिमालय की चोटी से फिर हमने ललकारा है, दूर हटो ए दुनियां वालों हिंदुस्तान हमारा है' जैसे गीतों ने स्वतंत्रता सेनानियों को आजादी की राह पर बढ़ने के लिए प्रेरित किया।

यूं तो भारतीय सिनेमा जगत में वीरो को श्रद्धांजलि देने के लिए अब तक न जाने कितने गीतों की रचना हुई है लेकिन 'ऐ मेरे वतन के लोगों जरा आंखो में भर लो पानी जो शहीद हुए हैं उनकी जरा याद करो कुर्बानी' जैसे देश प्रेम की अछ्वुत भावना से ओत प्रोत रामचंद्र द्विवेदी उर्फ कवि प्रदीप के इस गीत की बात ही कुछ और है। एक कार्यक्रम के दौरान देश भक्ति की भावना से परिपूर्ण इस गीत को सुनकर तत्कालीन प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू की आंखों में आंसू छलक आए थे।

वर्ष 1952 में प्रदर्शित फिल्म 'आनंद मठ' का गीताबाली पर लता मंगेशकर की आवाज में फिल्माया गीत 'वंदे मातरम' आज भी दर्शकों और श्रोताओं को अभिभूत कर देता है। इसी तरह 'जागृति' में हेमंत कुमार के संगीत निर्देशन में मोहम्मद रफी की आवाज में रचा बसा यह गीत 'हम लाये है तूफान से कश्ती निकाल के' श्रोरोताओं में देशभक्ति की भावना को जागृत किए रहता है।

आवाज की दुनिया के बेताज बादशाह मोहम्मद रफी ने कई फिल्मों में देशभक्ति से परिपूर्ण गीत गाये हैं। इन गीतों में कुछ है 'ये देश है वीर जवानों का', 'वतन पे जो फिदा होगा अमर वो नौजवान होगा', 'अपनी आजादी को हम हरगिज मिटा सकते नहीं', 'उस मुल्क की सरहद को कोई छू नहीं सकता जिस मुल्क की सरहद 

की निगाहबान है आंखे', 'आज गा लो मुस्कुरा लो महफिले सजा लो', 'हिंदुस्तान की कसम ना झुकेंगे सर वतन के नौजवान की कसम', 'मेरे देशप्रेमियो आपस में प्रेम करो देशप्रेमियों' आदि कवि प्रदीप की तरह ही प्रेम धवन भी ऐसे गीतकार के तौर पर याद किया जाता है जिनके 'ऐ मेरे प्यारे वतन', 'मेरा रंग दे बसंती चोला', 'ऐ वतन ऐ वतन तुझको मेरी कसम' जैसे देशप्रम की भावना से ओत प्रोत गीत आज भी लोगों के दिलों दिमाग मे देश भक्ति के जज्बे को बुलंद करते हैं।

फिल्म 'काबुली वाला' में पाश्र्वगायक मन्ना डे की आवाज में प्रेम धवन का रचित यह गीत 'ए मेरे प्यारे वतन ऐ मेरे बिछड़े चमन' आज भी श्रोताओं की आंखों को नम कर देता है। इन सबके साथ वर्ष 1961 में प्रेम धवन की एक और सुपरहिट फिल्म 'हम हिंदुस्तानी' प्रदर्शित हुई जिसका गीत 'छोड़ो कल की बातें कल की बात पुरानी' सुपरहिट हुआ।

वर्ष 1965 में निर्माता-निर्देशक मनोज कुमार के कहने पर प्रेम धवन ने फिल्म 'शहीद' के लिए संगीत 
निर्देशन किया। यूं तो फिल्म शहीद के सभी गीत सुपरहिट हुए लेकिन 'ऐ वतन ऐ वतन' और 'मेरा रंग दे बंसती चोला' आज भी श्रोताओं के बीच शिद्धत के साथ सुने जाते हैं।

भारत-चीन युद्ध पर बनी चेतन आंनद की वर्ष 1965 में प्रदर्शित फिल्म 'हकीकत' भी देश भक्ति से परिपूर्ण फिल्म थी। मोहम्मद रफी की आवाज में कैफी आजमी का लिखा यह गीत 'कर चले हम फिदा जानों तन साथियों अब तुम्हारे हवाले वतन साथियों' आज भी श्रोताओं में देशभक्ति के जज्बें को बुलंद करता है।

देशभक्ति से परिपूर्ण फिल्में बनाने में मनोज कुमार का नाम विशेष तौर पर उल्लेखनीय है। 'शहीद', 'उपकार', 'पूरब और पश्चिम', 'क्रांति', 'जय हिंदू द प्राइड' जैसी फिल्मों में देश भक्ति की भावना से ओत प्रोत के गीत सुन आज भी श्रोताओं की आंखे नम हो जाती है। जे.पी.दत्ता और अनिल शर्मा ने भी देशभक्ति के जज्बे से परिपूर्ण कई फिल्मों का निर्माण किया है।

इसी तरह गीतकारों ने कई फिल्मों में देशभक्ति से परिपूर्ण गीत की रचना की है इनमें 'जहां डाल डाल पर सोने की चिड़िया करती है बसेरा वो भारत देश है मेरा', 'ए वतन ऐ वतन तुझको मेरी कसम', 'नन्हा मुन्ना राही हूं देश का सिपाही हूं', 'है प्रीत जहां की रीत सदा मैं गीत वहां के गाता हूं', 'मेरे देश की धरती सोना उगले', 'दिल दिया है जां भी देगें ऐ वतन तेरे लिए', 'भारत हमको जान से प्यारा है', 'ये दुनिया एक दुल्हन के माथे की बिंदिया ये मेरा इंडिया', 'सरफरोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है', 'फिर भी दिल है हिंदुस्तानी', 'जिंदगी मौत ना बन जाये संभालो यारों', 'मां तुझे सलाम', 'थोड़ी सी धूल मेरी धरती की मेरी वतन की' आदि।
SOURCE - HINDUSTAN

आशिकी 3 में नज़र आ सकते हैं रितिक रोशन !



फिल्म आशिकी और आशिकी 2 की सफलता के बाद अब आशिकी 3 को लेकर खबरें यह आ रही हैं कि इस फिल्म में मुख्य भूमिका में ऐक्टर रितिक रोशन नज़र आ सकते हैं। खबर है कि इस फिल्म के लिए टी-सीरीज़ ने रितिक से सम्पर्क किया है। 

1991 में सुपरहिट फिल्म आशिकी रिलीज हुई थी, जो उस समय की सबसे बड़ी म्यूजिकल हिट फिल्म साबित हुई। फिल्म में राहुल रॉय और अनु अग्रवाल मुख्य भूमिका में थे, जबकि आशिकी 2 में आदित्य रॉय कपूर और श्रद्धा कपूर ने काम किया और यह फिल्म भी काफी हिट रही। अब तीसरी सीरीज में रितिक रौशन को लाने पर बातें चल रही हैं, जबकि इससे पहलो दोनों फिल्मों में न्यू कमर को लीड ऐक्टर के रूप में लिया गया था। अब देखना यह है कि रितिक रोशन को लोग इस किरदार में एक्सेप्ट कर पाते हैं या नहीं। 

हालांकि, फिलहाल इस खबर पर न तो रितिक और न ही टी-सीरीज की ओर से हामी मिल पाई है।
SOURCE - NAVBHARAT TIMES

अभिषेक मेरा वीरू है : अमिताभ बच्चन



बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन का कहना है कि वह अपने बेटे अभिषेक बच्चन को वीरू कहते हैं। वीरू 40 साल पहले स्वतंत्रता दिवस पर रिलीज हुई शोले में धर्मेंद्र के किरदार का नाम था। इस फिल्म में अमिताभ ने जय का किरदार निभाया था और इसमें दिखायी गई जय-वीरू की दोस्ती अमर हो गई।

अमिताभ ने कहा, मेरे लिए अभिषेक वीरू है। वह मेरा दोस्त है। उन्होंने कहा कि धर्मेंद्र के साथ उनके बहुत अच्छे संबंध हैं। उन्होंने कहा जब भी हम मिलते हैं, हम अच्छा समय साझा करते हैं।

रणबीर कूपर की फ्लॉप फिल्म 'बॉम्बे वेलवेट' पर क्या बोलीं कैटरीना?



कैटरीना ने कहा, "मैं रणबीर के बारे में कुछ नहीं कहना चाहती, लेकिन आप ईमानदारी से अच्छा काम करते हैं तो आप चैन की नींद सो पाते हैं. यह सही है कि जब कोई फिल्म फ्लॉप होती है तो एक्टर को तकलीफ होती है लेकिन जब गिरेंगे तभी तो आप बढ़ेंगे और मजबूत होंगे."

ऐसी खबरें है कि रणबीर और कैटरीना एक साथ रह रहे हैं और इस साल के अंत तक शादी भी करने वाले हैं. इस बारे में जब कैटरीना से पूछा गया तो उनहोंने कहा, "मैं इस टॉपिक पर बात नहीं करना चाहती. मैं यह नहीं कह सकती कि मैं एंगेज नहीं हूं लेकिन अभी तक शादी की कोई तारीख तय नहीं हुई है. मैं इस बारे में कुछ झूठ नहीं बोलूंगी. जब कुछ तय होगा तो दुनिया को पता चल जाएगा."

हाल ही में रणबीर कपूर ने फिल्म 'तमाशा' की शूटिंग खत्म की है. जब कैटरीना से पूछा गया कि 'आप कोरसिका में रणबीर की आने वाली फिल्म तमाशा के सेट पर मौजूद थीं'? तो उन्होंने कहा, 'मैं अपने पर्सनल टाईम में कहा जाती हूं ये मैं नहीं बना सकती.'

उन्होंने कहा कि वो इम्तियाज अली की फैन हैं और उन्हें उन पर यकीन है वह खराब फिल्म नहीं बनाएंगे.
SOURCE - ABP NEWWS

Brothers Movie Review


Genre:
Action, Drama
Cast:
Akshay Kumar, Sidharth Malhotra and Jacqueline Fernandez
Director:
Karan Malhotra


An overblown, ultra-violent melodrama, Brothers spills a lot of blood and breaks plenty of bones on the way to establishing the primacy of fraternal love.

The collateral damage that the film inflicts isn’t confined to the screen alone. Its excesses could drive the more sensitive and discerning of Bollywood pulp lovers off such fare for a spell, if not for good. 

Brothers is an official remake of the 2011 Hollywood actioner Warrior. With the predilections of Indian audiences in mind, it tweaks the source storyline in significant ways in a bid to whip up high-pitched emotions and over-the-top drama.

The film has loads of both – emotion and drama. Yet, it is strangely torpid because ring hollow. 

In any case, how edifying and exhilarating can the sight of beefy men pummeling each other be when it is stretched beyond two and a half hours? 

The tale revolves around two Mumbai half-brothers, part of a family that once was. Fate brings the two streetfighters head to head in a bloody mixed martial arts contest.

One of them is in the arena for the money that could save his ailing daughter; the other is in the game to redeem his alcoholic father, the man at the root of all their troubles.

As the MMA tournament unfolds along entirely predictable lines, one of the excitable ringside commentators, who is as annoyingly loud as anything else that the film has to offer, hollers that this is “Mahabharat reloaded”, this is epic”. 

Epic indeed, but not quite in the way that would have made the film a tolerable experience. 

Brothers aspires to be a high-voltage sports film, but is unable to land its punches on target. 

This film is a perfect demonstration of all that is wrong with contemporary Bollywood potboilers. It is marred by poor scripting and unbridled overacting.

Brothers presents the story of forgiveness and redemption purely as a physical confrontation between two estranged brothers who have drifted apart amid tragic circumstances.

Director Karan Malhotra’s heavy-handed approach to the material drains out the emotional power of the original. 

He resorts to storytelling methods that bank on the most fetid of clichés packaged in a style marked by a fondness for the mawkish. 

Malhotra continues pretty much in the Agneepath vein, rolling out his thundering scenes like there is no tomorrow, with an earsplitting background score so persistent and so shrill that it deadens the soul.

Brothers also has what must surely be the silliest and most ill-timed item number ever foisted on a film.

A skimpily clad Kareena Kapoor pops up on the screen with Mary Naam Mary at the most inopportune point in the story, just when the younger street fighter, Monty Fernandes (Sidharth Malhotra), begins to find his footing his life, having just knocked out a reputed pugilist with a single blow. 

Responding to the exhortation of his sozzled dad to give direction to his anger, Monty seems all set to take on the elder one, David Fernandes (Akshay Kumar), when Mary interrupts the flow. 

David is now a much-loved physics teacher who lives away from the din with his wife Jenny (Jacqueline Fernandes) and a little daughter whose weak kidneys are a severe strain on the man’s financial resources.

He has left his bitter past behind, but the memories of his fighting days under the tutelage of his father Garson Fernandes (Jackie Shroff) are still fresh. 

His students ask David to show them the tattoos on his torso, but David refrains from baring his stripes.

When he returns to the street fighting ring in Colaba, he loses his job, but not the support of his principal (Kulbhushan Kharbanda) and his enthusiastic pupils.

By the time Deadly David, a wild card entry in the hyped R2F (Right to Fight) tournament, and Manic Monty, whose fury knows no bounds, square off against each other in the ring, it is difficult to stay focused on the crux of the family drama. 

In a film like Brothers, the quality of the acting doesn’t matter. What matters is the impact of the action scenes, which have the potential to make and mar of the production.

The pitching of the drama is several notches above acceptable limits and the fight sequences have men mercilessly mauling each other until deep gashes are opened and bones are crunched.

The two protagonists take on opponents from all over the world, including a fearsome German and a Shaolin fighter, and reduce them to pulp.

Sidharth Malhotra’s Monty gets appreciably less footage because he takes next to no time to knock out his rivals.

Akshay Kumar’s character engages in more time-consuming bouts, tiring out his opponents before going in for the kill. The film levaes the audience in no doubt who the bigger star is.

Brothers has the usually effective Shefali Shah in a cameo that ends a blood-splattered mess. In the bargain, she, too, is reduced to an agonizing spectacle. 

For all the hoopla, Brothers, in going for the jugular, punches well below its weight.

It makes so much noise that any sensible point about brotherly bonding and filial fidelity that it might be trying to make is completely drowned out by the decibels. Take your earplugs along.
SOURCE - NDTV

Birthday Special: दक्षिण की अभिनेत्रियों को वैजयंती ने बॉलीवुड में दिलायी पहचान

बॉलीवुड में वैजयंती माला का नाम एक ऐसी अभिनेत्री के तौर पर शुमार किया जाता है जिन्होंने दक्षिण भारतीय अभिनेत्रियों को बॉलीवुड में विशिष्ट पहचान दिलायी।

13 अगस्त 1936 को तामिलनाडु में जन्मी वैजयंती माला ने अपने सिने करियर की शुरुआत महज 13 वर्ष की उम्र में एक तमिल फिल्म से की। वर्ष 1951 में प्रदर्शित फिल्म 'बहार' से वैजयंती माला ने बॉलीवुड में भी अपने करियर की शुरुआत कर दी। वर्ष 1954 में प्रदर्शित फिल्म 'नागिन' वैजयंती माला के सिने करियर की पहली सुपरहिट फिल्म साबित हुई।

शोले का रीमेक बनाने के खिलाफ हूं : रमेश सिप्पी



हिंदी फिल्म 'शोले' के निर्देशक रमेश सिप्पी इस लोकप्रिय फिल्म का रीमेक बनाए जाने के खिलाफ हैं। इसी हफ्ते 'शोले' फिल्म की रिलीज को 40 वर्ष पूरे होने वाले हैं। फिल्म निर्माता रामगोपाल वर्मा ने अमिताभ बच्चन, दक्षिण के अभिनेता मोहनलाल, अजय देवगन, प्रशांत राज सचदेव और सुष्मिता सेन को लेकर आग के नाम से इसका रीमेक बनाने का प्रयास किया था जिसकी काफी आलोचना हुई और यह फिल्म बॉक्स ऑफिस पर बुरी तरह विफल रही। 

सिप्पी ने यहां एक इंटरव्यू में पीटीआई से कहा, 'दुनिया चुनौतियों से भरी हुई है... वे अधिकार हासिल कर सकते हैं... और अगर कोई सोचता है कि वह बेहतरीन फिल्म बना सकता है तो उसे बनाना चाहिए।' जिन्होंने बनाया (रीमेक) वे विफल रहे। मैंने उन्हें (आरजीवी को) इसे नहीं बनाने की सलाह दी थी। 

‘शानदार’ का ट्रेलर यूट्यूब पर हिट, 48 घंटे में 20 लाख लोगों ने देखा

शाहिद कपूर और आलिया भट्ट अभिनीत फिल्म ‘शानदार’ का ट्रेलर रिलीज होने के बाद से इसे महज दो दिनों में ही 20 लाख से भी अधिक बार देखा गया है।
मुंबई। शाहिद कपूर और आलिया भट्ट अभिनीत फिल्म ‘शानदार’ का
 ट्रेलर रिलीज होने के बाद से इसे महज दो दिनों में ही 20 लाख से भी अधिक बार देखा गया है। तीन मिनट 12 सेकंड लंबे ट्रेलर को 13 अगस्त को लांच किया गया था और इसे अबतक 2,101,254 बार देखा गया है।

आधुनिक समय की प्रेम कहानी पर आधारित इस फिल्म में काफी नयापन है और यह मौज मस्ती से भरी है। आलिया (22) ने ट्विटर पर फिल्म की इस नई उपलब्धि को साझा किया। उन्होंने ट्वीट किया कि 48 घंटे से भी कम समय में बीस लाख से अधिक बार देखा गया। ऐसा लग रहा है जैसे मैं आप सभी को एक ‘शानदार’ किस दे रही हूं.. ही.. ही.. ही.. ‘शानदार’।

फिल्म में शाहिद एक वेडिंग प्लानर जगजिंदर जोगिंदर बने हैं, जो आलिया की बहन की शादी समारोह का आयोजन कर रहे हैं। फिल्म में शाहिद के वास्तविक जीवन में पिता पंकज कपूर आलिया के पिता का किरदार निभा रहे हैं। उनकी सौतेली बहन सना कपूर इसी फिल्म से बॉलीवुड में आगाज कर रही हैं जो फिल्म में दुल्हन का किरदार निभा रही हैं।
SOURCE - khabar.ibnlive

डॉली बिन्द्रा ने कहा, राधे मां से मुझे जान का खतरा


दिन ब दिन राधे मां की मुश्किलें बढ़ती ही जा रही हैं। राधे मां की भक्त रह चुकीं अभिनेत्री डॉली बिंद्रा ने राधे मां और उनके केयरटेकर गुप्ता परिवार के खिलाफ मुंबई पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है। 

शिकायत में डॉली बिंद्रा ने कहा कि 10 अगस्त से उन्हें लगातार जान से मारने की धमकी भरे फोन आ रहे हैं। बिंद्रा के मुताबिक इस फोन के पीछे राधे मां और संजीव गुप्ता के परिवार का हाथ ही हो सकता है।

डॉली ने कहा कि, 'राधे मां और एम एम मिठाईवाला परिवार को ये डर सताने लगा है कि मैं उनकी पोल ना खोल दूं।' डॉली के मुताबिक करीब दो साल पहले तक वो राधे मां के यहां हमेशा जाया करती थीं लेकिन अब उन्होंने जाना बंद कर दिया है क्योंकि उन्हें राधे मां और परिवार के सच्चाईयों का पता चल गया है जिसका खुलासा वो बाद में करेंगी।
SOURCE - HINDUSTA

कपिल शर्मा की डेब्यू फिल्म 'किस किसको प्यार करूं' का First Poster रिलीज

कपिल शर्मा की डेब्यू फिल्म 'किस किसको प्यार करूं' का First Poster रिलीज

मुंबई. कॉमेडियन और टीवी होस्ट से बॉलीवुड एक्टर बने कपिल शर्मा की डेब्यू फिल्म 'किस-किस से प्यार करूं' का पहला पोस्टर सामने आ गया है। इस पोस्टर में कपिल के अलावा एली अवराम सहित उनकी बाकी एक्ट्रेसेस, एक्टर अरबाज खान और वरुण शर्मा भी दिखाई दे रहे हैं।
खबरों के अनुसार, फिल्म का ट्रेलर 12 अगस्त को रिलीज किया जाएगा। बता दें कि दर्शक अब्बास-मस्तान के निर्देशन में बनी इस फिल्म को 25 सितंबर से सिनेमाघरों में देख सकेंगे।
SOURCE - BHASKER

Rishi Kapoor teases Asin on her impending marriage


Veteran actor Rishi Kapoor today showed his lighter side by pulling his "All is Well" co-star Asin's leg on her impending wedding at an event here. 

Asin is reportedly getting hitched to Micromax co-founder Rahul Sharma and while actress decided to keep mum on the topic, Kapoor kept dropping hints. 

"Why don't you say something? Should I get you a tablet?", Kapoor said, hinting at the mobile phone company. 

"Please say something, aap SHARMA kyu rahi hain? We haven't heard anything from her (Asin). She is all the time Sharma'oing," Kapoor quipped. 

Asin blushed after Kapoor's response and quickly added, "I had this coming". 

In the film, Kapoor plays the father of Abhishek Bachchanwhose love interest is Asin. 

The "Ghajini" star is making a comeback with the Umesh Shukla directed comedy after a gap of three years. 

"All is Well" also stars Supriya Pathak and is set to release on August 21.
SOURCE - business-standard

बॉलीवुड एक्ट्रेस और डांसर राखी सावंत की मानें तो खुद को देवी कहने वाली राधे मां उनके लिए भगवान

 फाइल फोटो : राखी सावंत और राधे मां

मुंबई. बॉलीवुड एक्ट्रेस और डांसर राखी सावंत की मानें तो खुद को देवी कहने वाली सुखविंदर कौर उर्फ राधे मां उनके लिए भगवान की तरह हैं। एक न्यूज चैनल को दिए इंटरव्यू में उन्होंने राधे मां की जमकर वकालत की। उन्होंने कहा, "मुझे राधे मां बहुत अच्छी लगती हैं। वे हमेशा नए-नए कपड़े पहनती हैं, जेवर पहनती है। मुझे नहीं पता क्या है, लेकिन कुछ तो कशिश है, जो लोग उन्हें फॉलो करते हैं। मैं नहीं जानती कि उनके अंदर देवी है या नहीं, लेकिन एक लेडी सबको रूल करती है, मुझे बहुत अच्छा लगता है।"
इतना ही नहीं, जब राखी से राधे मां के मिनी स्कर्ट पहनने पर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि कितने ही आर्टिस्ट्स के चेहरे न्यूड फोटोज पर फिट कर दिए जाते हैं, तो क्या वे उनकी असली फोटो हो जाती हैं। राखी की मानें तो स्कर्ट वाली फोटोज में राधे मां है ही नहीं। इस दौरान राखी ने यह दलील भी दी कि देवी 24 घंटे तो किसी लेडी के शरीर में नहीं रहेगी और यदि राधे मां मिनी स्कर्ट पहनती हैं तो इसमें गलत क्या है।

आसाराम पर साधा निशाना

राधे मां का बचाव करते हुए राखी ने जेल में बंद आसाराम पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा, "रेप करने वाला भगवान कैसे बन सकता है। वो जो जेल में सड़ रहा है।" जब ऐसे लोग बाबा बन सकते हैं, भगवान बन सकते हैं, तो एक लेडी माता क्यों नहीं बन सकती। किस किताब में लिखा है कि एक बहू, एक बच्चा पैदा करने वाली लेडी देवी नहीं बन सकती।

राधे मां का मन हुआ तो गोद में घूमी

जब राखी सावंत से पूछा गया कि राधे मां भक्तों के गोद में बैठ जाती हैं, ऐसा क्यों तो उन्होंने जवाब दिया, "इसमें गलत क्या है? राधे मां का मन हुआ कि वे अपने भक्त की गोद में घूमें, इसलिए चली गई होंगी।" राखी राधे मां के फ़िल्मी गानों पर डांस करने को भी गलत नहीं मानती हैं। वे कहती हैं. "जब तक देवी शरीर के अंदर है, तब तक वे राधे मां हैं, लेकिन देवी के निकलने के बाद वे भी तो एक आम लेडी हैं। फिर वे जो करना चाहें कर सकती हैं।"

कौन है राधे मां?

राधे मां पंजाब के गुरदासपुर जिले में एक सिख परिवार में जन्मीं। उनकी शादी पंजाब के ही रहने वाले बिजनेसमैन सरदार मोहन सिंह से हुई। शादी के बाद एक महंत से राधे मां की मुलाक़ात हुई। इसके बाद ही उन्होंने आध्यात्मिक जीवन अपना लिया। कुछ समय बाद वे मुंबई आ गईं और राधे मां के नाम से मशहूर हो गईं। राधे मां खुद को देवी का अवतार मानती हैं।

राधे मां पर क्या हैं आरोप?

1. राधे मां पर एक महिला को उसके पति और ससुरालवालों से दहेज के लिए प्रताड़ित करवाने का आरोप लगा है। मुंबई की बोरीवली पुलिस ने इस मामले में राधे मां समेत सात लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है। केस दर्ज कराने वाली महिला का आरोप है कि शादी के वक्त उसके पेरेंट्स ने करोड़ों रुपए की ज्वैलरी दी थी। लेकिन राधे मां ने उसके सास-ससुर से कहा कि वह उस पर और दहेज लाने का दबाव डाले। इसके बाद उसे प्रताड़ित किया गया।
2. राधे मां की स्कर्ट पहनी तस्वीरें सामने आने के बाद मुंबई की एक वकील फाल्गुनी ब्रह्मभट‌्ट ने एक और केस दर्ज कराया है। वकील ने अपनी शिकायत में कहा है कि राधे मां धर्म के नाम पर लोगों के साथ धोखाधड़ी कर रही हैं। वे अश्लीलता भी फैला रही हैं।

ऋषि कपूर ने ली ट्विटर पर चुटकी


बॉलीवुड एक्टर ऋषि कपूर ने ट्विटर पर खुद को देवी कहने वाली राधे मां और अन्य कथित बाबाओं के खिलाफ मोर्चा खोला है। उन्होंने इन्हें लेकर कई ट्वीट्स किए हैं। राधे मां को लेकर उन्होंने लिखा है, "लिपस्टिक, आई शैडो, ज्वैलरी और भी बहुत कुछ...कहीं यह बिना चश्मे के मेरा दोस्त बप्पी लाहिड़ी तो नहीं।"
इस ट्वीट में उन्होंने राधे मां के बहाने ही सही, लेकिन कहीं न कहीं बप्पी लाहिड़ी का मजाक भी उड़ाया है। इसके अलावा उन्होंने आसाराम, ओशो, सत्य साईं बाबा और राधे मां की एक फोटो शेयर करते हुए देश को जागने के लिए कहा है। उन्होंने लिखा है, "जागो इंडिया जागो! इन एक्टर्स द्वारा कमजोरी का फायदा उठाया जा रहा है। मैं भी एक्टर हूं, लेकिन सिर्फ मनोरंजन करता हूं। सोचना।"
ऋषि ने FTII के चेयरमैन गजेंद्र चौहान के साथ राधे मां की एक फोटो शेयर करते हुए उन पर कटाक्ष किया है। लिखा है, "एक एस्पायरिंग FTII स्टूडेंट एक स्पिरिंग FTII प्रिंसिपल को आशीर्वाद दे रही है। जय हो राधे राधे।" इतना ही नहीं, ऋषि ने अपनी एक फोटो शेयर करते हुए मजाकिया लहजे में कहा है कि एक बाबा और तैयार हो रहा है - ऋषि मुनि ऋषि।

सुभाष घई ने किया समर्थन

सुभाष घई और उनकी पत्नी की राधे मां के साथ एक तस्वीर सामने आई थी। इस पर घई ने शनिवार को सफाई दी। कहा- ‘‘माता वैष्णो देवी के भक्त होने के कारण हम राधे मां से मिलने बोरीवली जाते हैं। राधे मां हमें पेरेंट्स की तरह सम्मान देती हैं। हमने कभी भी उनके आसपास गलत तरह का माहौल महसूस नहीं किया। हमें यह भी मालूम है कि वे नॉर्मल और सेंसेटिव महिला हैं जिनके दो बच्चे हैं। वे किसी आम महिला की ही तरह नॉर्मल सोशल लाइफ जीती हैं। लेकिन देवी के रूप में वे भजन पसंद करती हैं और कभी-कभी भक्तों के साथ नाचती हैं। वे चाहती हैं कि उनके भक्त उन्हें बच्चों की तरह ट्रीट करें।’’
SOURCE - bollywood.bhaskar

सर्वाधिक कमाई करने वाली दुनिया की तीसरी बड़ी फिल्म बनी ‘जुरासिक वर्ल्ड’


लॉस एंजिलिस :क्रिस प्रैट अभिनीत फिल्म ‘जुरासिक वर्ल्ड’ दुनिया में बॉक्स ऑफिस पर सवार्धिक कमाई करने वाली तीसरी फिल्म बन गयी है।

‘जुरासिक वर्ल्ड’ ने दुनिया भर के बॉक्स ऑफिस पर 1.522 बिलियन अमेरिकी डॉलर की कमाई की है और इसके थियेटरों से हटने से पहले और अधिक कमाई करने की उम्मीद है।

कमाई के मामले में इस फिल्म का नंबर जेम्स कैमरून की सफल फिल्म ‘टाइटैनिक’ के बाद आता है जो 2.186 बिलियन अमेरिकी डॉलर की कमाई करने के साथ सबसे ज्यादा कमाई करने वाली दूसरी फिल्म थी।

इस बीच, ‘अवतार’ अभी भी 2.788 बिलियन की कमाई के साथ सबसे ज्यादा कमाई करने वाली फिल्म बनी हुई है। फिल्म ‘जुरासिक वर्ल्ड’ की भारी सफलता के बाद ऐसी खबर है कि इस फिल्म के सीक्वल का निर्माण किया जा रहा है जो कि ‘जुरासिक पार्क’ फिल्म सीरीज का पांचवा संस्करण होगा।’
SOURCE - ZEE NEWS

राखी सावंत ने सनी लियोनी पर बोला हमला, कहा-'पॉर्न के साथ उसे भी बैन कर दो'


नई दिल्ली : बॉलीवुड में आइटम गर्ल के नाम से मशहूर राखी सावंत ने पोर्न वेबसाइटों पर प्रतिबंध लगाने के सरकार के फैसले का जहां समर्थन किया, वहीं उन्होंने अभिनेत्री सनी लियोनी पर भी प्रतिबंध लगाने की मांग की है। राखी ने कहा कि पॉर्न की तरह सनी लियोन पर भी बैन लगा देना चाहिए और उन्हें देश से घसीट कर बाहर कर देना चाहिए। 

मीडिया रिपोर्टों के अनुसार राखी ने कहा, 'बड़े-बड़े प्रधानमंत्री जो काम नहीं कर पाए वो मोदी जी ने कर दिखाया। मैं मोदी जी को धन्यवाद देती हूं। हर स्कूल में पोर्न फिल्म देखी जाती हैं। 11 साल के बच्चे भी स्कूल में बैठकर पोर्न फिल्म देखते हैं। बच्चों को मोबाइल फोन और लैपटॉप दिए जाते हैं जिसकी वजह से बच्चे बिगड़ रहे हैं। पोर्न के साथ ही इंडिया में सनी लियोनी को भी बैन कर दो। उसे देश से घसीट कर बाहर निकाल देना चाहिए। सनी की वजह से ही देश की बाकी एक्ट्रेस को एक्सपोज करना पड़ता है। जब तक मैं जिंदा हूं तब तक मैं चाहती हूं कि मोदी जी ही देश के पीएम बने रहें।'

गौरतलब है कि सरकार ने अश्लील और हास्य सामग्री परोसने वाली 857 वेबसाइटों पर रोक लगाने का आदेश जारी किया था लेकिन प्रतिबंध लगाने की तीखी आलोचना का सामना करने के बाद सरकार ने गत मंगलवार को उन सभी वेबसाइटों पर से प्रतिबंध हटा लिया जिन पर बच्चों से जुड़ी अश्लील सामग्री नहीं होती।

आंख मूंदकर प्रतिबंध लगाने को लेकर सोशल मीडिया एवं अन्य फोरम में भारी आलोचना का सामना करने के बीच दूरसंचार विभाग ने एक आदेश में कहा, ‘मध्यस्थों (आईएसपी) को निर्देश दिया जाता है कि वे 857 यूआरएल (वेबसाइटों) में किसी को भी निष्क्रिय नहीं करने के लिए स्वतंत्र है बशर्ते उनमें बच्चों से जुड़ी पोर्नोग्राफिक सामग्री न हो।’

पॉर्न वेबसाइटों पर रोक लगाने के सरकार के फैसले का कई कलाकारों ने भी विरोध किया था।
SOURCE -  ज़ी मीडिया ब्‍यूरो

राजेश खन्ना की लिव-इन पार्टनर की याचिका पर डिंपल, ट्विंकल और अक्षय को नोटिस


सुप्रीम कोर्ट ने सुपर स्टार रहे राजेश खन्ना के साथ कथित रूप से सहजीवन रिश्ते में रही अनीता आडवाणी की याचिका पर बालीवुड अभिनेता अक्षय कुमार, उनकी पत्नी ट्विंकल खन्ना और सास डिंपल कपाड़िया से जवाब तलब किया है।

अनीता आडवाणी ने इन तीनों के खिलाफ घरेलू हिंसा का मामला निरस्त करने के फैसले को चुनौती दी है। उसने कहा कि सिर्फ विकीपीडिया पर यह पढ़कर कि वह उनके साथ लिव-इन रिश्ते में नहीं रही, याचिका खारिज कर दी गई, जो गलत है।

मुख्य न्यायाधीश एच एल दत्तू की अध्यक्षता वाली पीठ ने शुक्रवारको अनिता की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता आर्यमा सुंदरम और वकील जतिन झावेरी की दलीलें सुनने के बाद नोटिस जारी किए।

सुंदरम ने घरेलू हिंसा से महिला के संरक्षण कानून के तहत अक्षय, टिवंकल और डिंपल के खिलाफ अनिता की शिकायत खारिज करने के बंबई उच्च न्यायालय के आदेश को गलत बताया। उन्होंने कहा, उसका दिवंगत राजेश खन्ना से विवाह नहीं हुआ था परंतु वह ऐसे रिश्ते में थी जो विवाह की प्रकृति का था। लेकिन फिर भी उनकी शिकायत गलत खारिज कर दी गई।

मामला: बंबई उच्च न्यायालय ने अनिता की शिकायत पर निचली अदालत द्वारा शुरू की गई कार्यवाही निरस्त करने के लिए डिंपल, टि्वंकल और अक्षय की याचिका अप्रैल में स्वीकार कर ली थी। हाईकोर्ट ने टिप्पणी की थी कि खन्ना के साथ उनका रिश्ता विवाह की प्रकृति का नहीं था, इसलिए वह घरेलू हिंसा से संरक्षण कानून के तहत राहत नहीं प्राप्त कर सकतीं। कोर्ट ने यह भी कहा था कि इस कार्यवाही में खन्ना परिवार के सभी सदस्यों को नहीं घसीटा जा सकता क्योंकि, वे कभी भी उनके साथ नहीं रही थी।

अनिता ने दावा किया था कि खन्ना के निधन के बाद उन्हें उनके आशीर्वाद बंगले से बेदखल कर दिया गया। उन्होंने बांद्रा में तीन शयनकक्ष वाले फ्लैट और प्रतिमाह गुजारा भत्ते की मांग की थी। इस शिकायत पर मुंबई में मजिस्ट्रेट ने नोटिस जारी किए थे।
SOURCE - HINDUSTAN

'द अनुपम खेर शो' : जानिए क्यों प्रियंका को लगता है कि वो बिगड़ैल हैं

'द अनुपम खेर शो' : जानिए क्यों प्रियंका को लगता है कि वो बिगड़ैल हैं
एक्‍ट्रेस प्रियंका चोपड़ा की फाइल फोटो
मुंबई: कलर्स चैनल पर अनुपम खेर का टॉक शो 'द अनुपम खेर शो' का दूसरा सीजन शुरू हो चुका है। दूसरे सीजन का पहला एपिसोड 2 अगस्त को प्रसारित किया गया और बॉलीवुड की देसी गर्ल प्रियंका चोपड़ा उनकी पहली गेस्ट बनीं। अनुपम से बातचीत के दौरान प्रियंका ने अपने बारे में कई दिलचस्प बातें साझा कीं। ये हैं कुछ खास बातें...

1. पार्टनर चाहिए पिता जैसा
प्रियंका का कहना है कि वो अपनी जिंदगी में कोई ऐसा पार्टनर चाहती हैं, जो बिल्कुल उनके पिता की तरह फनी और चार्मिंग हो। उनका मानना है कि ऐसे शख्स को ढूंढना कोई मुश्किल काम नहीं है।

2. बचपन से ही जिद्दी हैं
प्रियंका ने 'द अनुपम खेर शो' के दौरान बताया कि वे बचपन से ही जिद्दी रही हैं। बिना किसी गिल्ट या पछतावे के वे कभी भी-कहीं भी 'नहीं' कहने को तैयार रहती थीं। शायद यही वजह है कि 'No' उनका फेवरेट शब्द बन गया।

3. खुद को बिगडैल मानती हैं
प्रियंका खुद को बिगडैल मानती हैं। सात सालों तक परिवार की अकेली लड़की होने कारण उनका पालन पोषण बड़े लाड़ प्यार से हुआ है। वे बड़े गर्व के साथ कहती हैं, 'मैं अब भी बुआओं और मौसियों की फेवरेट हूं।'

4. बचपन में थीं बातूनी
बचपन में प्रियंका बहुत बातूनी थीं और अक्सर लोगों की मिमिक्री किया करती थीं।

5. 16 साल की उम्र में हुई नस्लीय टिप्पणी
जब प्रियंका 16 साल की थीं तो अमेरिका में पढ़ाई के दौरान उन पर नस्लीय टिप्पणी की जाती थी। प्रियंका के अनुसार, एफ्रो-अमेरिकन लोग उन्हें ब्राउनी कहकर छेड़ते थे और कुक करी कहकर ताना मारा करते थे। कभी-कभी उनके सांवले रंग के कारण भी उन्हें चिढ़ाया जाता था।

6. सीखते रहने में है विश्वास
प्रियंका सीखने में विश्वास रखती हैं। जब भी उन्हें लोगों से कुछ अच्छा सीखने को मिलता है, वे पीछे नहीं रहतीं। उनके अनुसार, उन्होंने अक्षय कुमार से पाबंद होना सीखा है तो अमिताभ बच्चन के वाक्य 'कोई भी रोल छोटा या बड़ा नहीं होता, यह आपके अभिनय पर निर्भर करता है कि लोग आपको कैसे लेते हैं' से प्रेरणा मिली।

7. रिझा पाना नहीं आसान
प्रियंका को रिझा पाना आसान नहीं है। उन्होंने 'द अनुपम खेर शो' में उस शख्स का खुलासा किया, जिसने उनका दिल जीता था। प्रियंका के अनुसार, उनके पेरेंट्स ने उन्हें 8 कैरेट की डायमंड रिंग गिफ्ट की थी। उनका मानना है कि पिता ने उनके पार्टनर के लिए काफी बड़ा बेंचमार्क सेट कर दिया है।

8. 'कुछ भी हो सकता हैं' मोमेंट
प्रियंका चोपड़ा ने खुलासा किया है कि मिस वर्ल्ड का ताज जीतना उनके लिए 'कुछ भी हो सकता है' मोमेंट था। उन्हें आज भी यह सोचकर आश्चर्य होता है कि कैसे एक 18 साल की लड़की, जिसे कभी हाई हील पहनने या मॉडलिंग का अनुभव नहीं रहा, को इस तरह की सफलता हाथ लग सकती है।

9. असफल होना पसंद नहीं
प्रियंका को असफलता से नफरत है। वे हर हाल में जीतना चाहती हैं। उन्हें कुछ खोना बिल्कुल पसंद नहीं।

10 इंजीनियर बनना चाहती थीं
प्रियंका कभी इंजीनियर बनना चाहती थीं, जबकि उनके पिता डॉक्टर थे और मां भी इसी लाइन से जुड़ी हुई हैं। प्रियंका की मानें तो वे खून नहीं देख सकतीं। यहां तक कि ऐसे हालात में वे बेहोश भी हो सकती हैं।

साभार : bollywood.bhaskar

जन्‍मदिन विशेष: सिर्फ सिंगर नहीं थे किशोर कुमार...


मुंबई। हिंदी सिनेमा के मल्टी टैलेंटेड स्टार किशोर कुमार का जन्म आज ही के दिन हुआ था। वह अशोक कुमार के छोटे भाई थे। मोहम्मद रफी, मुकेश और लता जैसे बेहतरीन गायकों के बीच हिन्दी सिनेमा का डूडलिंग से परिचय कराने वाले किशोर कुमार बॉलीवुड के लगभग हर महानायक की आवाज बने। आज भी किशोर कुमार के नगमे नए से लगते हैं।








किशोर कुमार का जन्म 4 अगस्त 1929 को मध्यप्रदेश के खंडवा में हुआ था। उनके पिता एक वकील थे और बड़े भाई अशोक कुमार एक मशहूर अभिनेता। लेकिन किशोर कुमार को बचपन से एक्टिंग और गाने का शौक था। किशोर कुमार ने अपने गायकी करियर का आगाज देवानंद की फिल्म 'जिद्दी' से किया था। हालांकि इससे पहले वह कई फिल्मों में एक्टिंग कर चुके थे।






किशोर कुमार ने 1951 मे मुख्य अभिनेता के तौर पर फिल्म 'आंदोलन' से अपने करियर की शुरुआत की थी। हालांकि यह फिल्म दर्शकों को खास पसंद नहीं आई। किशोर कुमार को पहचान फिल्म 'लड़की' से मिली जो 1953 में रिलीज हुई थी। यह उनके करियर की बतौर अभिनेता पहली हिट फिल्म थी। इसके बाद बतौर अभिनेता भी किशोर कुमार ने अपनी फिल्मो के जरिये दर्शको का भरपूर मनोरंजन किया।




साल 1957 में आई फिल्म 'फंटूश' में 'दुखी मन मेरे गीत गाने' का अवसर मिला जिसने किशोर कुमार को पहचान दिलाई। इसके बाद किशोर कुमार ने देवानंद सहित कई अभिनेताओं के लिए पाश्र्वगायन किया।

किशोर कुमार को उनके गाये गीतों के लिये 8 बार फिल्मफेयर पुरस्कार मिला। किशोर कुमार ने अपने संपूर्ण फिल्मी कैरियर मे 600 से भी अधिक हिंदी फिल्मों के लिये अपना स्वर दिया। उन्होंने बंगला, मराठी, गुजराती, कन्नड, भोजपुरी और उडिया फिल्मों में भी अपनी दिलकश आवाज के जरिये श्रोताओं को भाव विभोर किया।

SOURCE - jagran.

मुंबई एयरपोर्ट पर स्पॉट हुए ऐश्वर्या, वरुण और जैकलीन


मुंबई। बॉलीवुड अभिनेत्री ऐश्वर्या राय बच्चन रविवार को मुंबई एयरपोर्ट पर दिखाई। उन्होंने सफेद टॉप और ब्लैक जींस पहना हुआ था। बता दें कि ऐश्वर्या इन दिनों अपनी जल्द आने वाली फिल्म जज्बा की शूटिंग में बिजी हैं, जिसे संजय गुप्ता निर्देशित कर रहे हैं।

ऐश्वर्या के अलावा जैकलीन फर्नांडीज और वरुण धवन भी मुंबई एयरपोर्ट पर नजर आए। हाल ही में इस कपल ने अपनी अपकमिंग फिल्म 'ढिशुम' का शेड्यूल पूरा किया है, जिसके डायरेक्टर रोहित धवन और प्रोड्यूसर साजिद नाडियाडवाला हैं। फिल्म की शूटिंग मोरक्को में चल रही थी।

SOURCE - samachar jagat

'दाऊद की बहन' बनने को बेताब हैं दबंग गर्ल सोनाक्षी सिन्हा


'बिहारी बाबू' की अभिनेत्री बेटी सोनाक्षी सिन्हा फिल्म निर्माता अपूर्व लाखिया की आगामी बायोपिक 'हसीना-द क्वीन ऑफ मुंबई' में अंडरवर्ल्ड डॉन की बहन का किरदार निभाने को बेसब्र हैं। सोनाक्षी का कहना है कि फिल्म की स्क्रिप्ट काफी प्रभावशाली है और वह इस किरदार को निभाने के लिए ज्यादा इंतजार नहीं कर सकतीं।

सोनाक्षी इन दिनों 'अकीरा' की शूटिंग में व्यस्त हैं। उन्होंने माइक्रोब्लोगिंग साइट ट्विटर पर पोस्ट किया, "यह शानदार स्क्रिप्ट है और हसीना का किरदार निभाने के लिए मैं इंतजार नहीं कर सकती।"

अब अक्सर नज़र आऊंगी बड़े पर्दे पर: ऐश्वर्या राय


पूर्व विश्वसुंदरी एवं फिल्म अभिनेत्री ऐश्वर्य राय बच्चन पांच सालों के लंबे अंतराल बाद निर्देशक संजय गुप्ता की फिल्म 'जज्बा' से बड़े पर्दे पर वापसी कर रही हैं।

उन्होंने कहा कि फिल्म में काम करने के दौरान उन्हें एक बार भी ऐसा नहीं लगा कि वह लंबे अंतराल बाद काम पर वापस आई हैं और इसका श्रेय फिल्म की टीम को जाता है।

ऐश्वर्य से यह पूछे जाने पर कि वह इतने समय तक पर्दे से दूर क्यों रही, उन्होंने कहा, "अब आप लोग मुझे अक्सर पर्दे पर देखा करेंगे।"

बड़े पर्दे पर द्रोपदी बनने को उत्सुक हैं मल्लिका शेरावत



बॉलीवुड में आजकल बायोपिक का ट्रेंड काफी चल रहा है और अब अगर अगर मल्लिका शेरावत इस राह पर चलती हैं तो वह द्रोपदी का किरदार निभाना चाहेंगी। यहां एक कार्यक्रम के दौरान मल्लिका से पूछा गया कि वह किस किरदार की बायोपिक करना चाहेंगी।

इस सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि "द्रोपदी..क्योंकि वह एक पौराणिक चरित्र है। वह बहुत शक्तिशाली महिला थीं और मेरे मन में वह काफी स्ट्रांग हैं।"

500 करोड़ की हुई 'बाहुबली', अमिताभ बच्चन और शाहरुख़ भी हुए मुरीद

500 करोड़ की हुई 'बाहुबली', अमिताभ बच्चन और शाहरुख़ भी हुए मुरीद
बाहुबली फेसबुक पेज से ली गई तस्वीर
हैदराबाद: तमिल निर्माता-निर्देशक एस एल राजामौली की ब्लॉक-बस्टर मल्टी लिंग्वल फिल्म 'बाहुबली' ने 500 करोड़ का आंकड़ा पार कर लिया है, ऐसा फिल्म इंडस्ट्री से जुड़े सूत्रों का कहना है।

यह फिल्म 10 जुलाई को रिलीज़ हुई थी। लगभग 200 करोड़ की लागत से बनी इस फिल्म में प्रभास और राणा दग्गुबाती का मुख्य रोल है।  देशभर में करीब 4000 स्क्रीन में रिलीज की गई इस फिल्म को तमिल, तेलुगू, हिन्दी और मलयालम में एक साथ रिलीज की गई।

फिल्म में राम्या कृष्णा, अनुष्का शेट्टी और तमन्ना भी लीड रोल में हैं। लगभग 200 करोड़ की लागत से बनी यह फिल्म भारतीय फिल्म इतिहास में अब तक की बनाई गई सबसे महंगी फिल्म है।

फिल्म में इस्तेमाल किए गए विज़ुअल और दूसरे इफेक्ट्स की काफी सराहना हुई है। ये फिल्म एक पीरियड एक्शन ड्रामा है, जिसे बनाने में तकरीबन तीन साल लग गए, लेकिन फिल्म में दिखाई जा रही कहानी का अंत नहीं दिखाया गया है, क्योंकि फिल्म का दूसरा भाग अगले साल पर्दे पर आने वाला है।

हिंदी में इस फिल्म को रिलीज़ निर्माता निर्देशक करण जौहर की कंपनी धर्मा प्रोडक्शन ने किया है। फिल्म को सीनियर एक्टर अमिताभ बच्चन समेत कई बड़े अभिनेताओं ने सराहा है।

सुपरस्टार शाहरुख़ ख़ान ने भी हाल ही में इस फिल्म की तारीफ़ करते हुए, फिल्म बनाने में की गई मेहनत की तारीफ़ की।

बाहुबली फिल्म की सफलता इस मायने में भी काफी महत्वपूर्ण है क्योंकि ये फिल्म रिलीज़ होने के पहले से लेकर रिलीज़ होने के तीन हफ़्ते बाद तक दर्शकों के बीच दिलचस्पी जगाने में कामयाब रही।  

SOURCE - NDTV

INFORMATION CENTER: GOOD NEWS - इन पोर्न साइट्स पर सरकार ने लगाया बैन

INFORMATION CENTER: GOOD NEWS - इन पोर्न साइट्स पर सरकार ने लगाया बैन: मोदी सरकार ने 857 पोर्न साइट्स बैन कर दी हैं. सरकार ने इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर्स को इस बाबत नोटिफिकेशन जारी कर दिया है. सरकार ने मिले आदेश...

Ban idiots who ban things: Sonam Kapoor on #PornBan

Can the government stop users from visiting porn sites? (Shutterstock Image)

The government's porn ban has elicited equal measure surprise and ridicule on the social media. Celebs voiced their opinion on the recent decision and called it "impractical", "illegal" and "impossible". Some even surmised that after beef and porn, what would the government ban next?

Actor Sonam Kapoor called it out by tweeting, "Ban idiots who think banning things is going to make a difference to Indian mentality.. #sooverthisgovt #NextBanIdea #sick #ashamed." 
Author Chetan Bhagat took the issue headlong when he wrote on Twitter, "Don't ban porn. Ban men ogling, leering, brushing past, groping, molesting, abusing, humiliating and raping women. Ban non-consent. Not sex. Porn ban is anti-freedom, impractical, not enforceable. Politically not very smart too. avoidable. Let's not manage people's private lives.Porn ban is anti-freedom, impractical, not enforceable. Politically not very smart too. avoidable. Let's not manage people's private lives."

Filmmaker Ram Gopal Varma shared a series of tweets on the subject. He wrote, "The best way to tackle a presumed menace is to bring it out in open rather than pushing it under the rug or pretending it doesn't exist. History proved it multiple times that if anytime anything is banned it will just gather strength in the underground. All in all any deprivation of personal liberty of an individual by a government amounts to a regression of social progress of that country.

Actor Uday Chopra tweeted, "So India bans porn. Will this decision lower the cases of sexual violence or increase it. I wonder." He then followed it up by asking people what should be banned next. 


Rajeev Khandelwal, actor: By acting so strict, the government will lose the youth’s support. Some choices are best left to individuals in a democracy Rajeev Khandelwal, actor

Mayur Puri, screenwriter: Dear government, what you really need to ban is illegal sharing of music and films on the internet. That’s killing the industry.

Onir, filmmaker: We never really address the issue, we are constantly trying to curb freedom. This will only encourage illegal activities.
SOURCE - HINDUSTAN

INFORMATION CENTER: बाहुबली ने बॉक्स ऑफिस पर 500 करोड़ रुपये बटोरे

INFORMATION CENTER: बाहुबली ने बॉक्स ऑफिस पर 500 करोड़ रुपये बटोरे: अनुभवी तेलुगू निर्देशक एस एस राजमौली की ब्लॉकबस्टर बहुभाषी फिल्म बाहुबली के रिलीज के तीन हफ्तों के भीतर 500 करोड़ रुपये की कमाई करन...

Abhishek Bachchan: Do Not Aspire to Achieve My Father's Super Stardom

This image was posted on Twitter by Amitabh Bachchan

"NOBODY CAN OR SHOULD ASPIRE FOR THAT AS IT IS NOT ACHIEVABLE. HE COMES ONCE IN A LIFETIME, THAT'S IT"
Nobody should aspire to achieve what megastar Amitabh Bachchan's has, as he is once in a lifetime phenomenon, feels his actor son Abhishek Bachchan. 

In a career spanning over four decades, Big B has delivered power packed performances in blockbusters like Deewar, Zanjeer, Don, Sholay, Namak Halal, Abhimaan, Baghban, Black and Paa to name a few. 

The 72-year-old actor has been honoured with Padma Shri, Padma Bhushan and Padma Vibhushan for his contribution to the industry. 

"I do not aspire to achieve the super stardom that my father has achieved. Nobody can or should aspire for that as it is not achievable. He comes once in a lifetime, that's it. It is better to accept and move on. He is like the sun. Make your own minuscule space under the sun," said Abhishek. 

Big B will next be seen in Bejoy Nambiar's Wazir, in which will play a paralysed chess grandmaster alongside Farhan Akhtar and Aditi Rao Hydari. 

The 39-year-old actor said that it is inspiring to see his father reinventing himself despite being a veteran. 

"I haven't seen the film yet. I have seen the teaser and liked it very much. It is fantastic. Even at this age he has managed to reinvent himself and that is talent. He has always done wonderful films," he added. 

Mr Bachchan's Paa co-star, who has completed 15 years in Bollywood, said he has learnt a lot from the failures he has experienced in the industry. 

His performances in films like Yuva, Bunty Aur Babli, Guru, Sarkar, Sarkar Raaj, Dostana, Dhoom and Paa were highly appreciated. 

"It has been 15 years and I have enjoyed and learnt a lot. I have learnt everything from my journey of 15 years. The journey should be educative. One should be receptive to learn from success and more so from failure. How you deal with it matters, as that is going to make a difference," the actor said. 

Abhishek feels being a son of a superstar does not matter in the long run in Bollywood as an actor will only get work if he or she is liked by the audience. 

"I am a positive person and I don't get bogged down. I have the privilege to say that I got to work for 15 years. It is bestowed upon you by the audience and it doesn't matter whose son or grandson you are. It is the audience that decides how much they want to see you. It is an honour that I got an opportunity to entertain the audience," he said. 

Abhishek's upcoming projects include All is Well directed by Umesh Shukla,Hera Pheri 3, and Housefull 3.
SOURCE - NDTV

Anil Kapoor: Came Out of Rogue Nation In a Tom Cruise Trance

Tom Cruise
Bollywood veteran Anil Kapoor has called Tom Cruise 'impossibly great'.

The Mr India star who worked with the Hollywood actor in Mission: Impossible - Ghost Protocol, was all praises for Mr Ethan's latest offering Rogue Nation. He posted a series of tweets on August 2.

On the work front, the Dil Dhadakne Do actor will be seen in Anees Bazmee's forthcoming entertainer Welcome Back, which is slated to release on September 4.
SOURCE - NDTV

A News Center Of Filmy News By Information Center

Google+ Followers